• रवि शंकर द्विवेदी

    राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष

    विश्व-हिन्दू-रक्षा-वाहिनी के आनुषङ्गिक उद्देश्य यह संस्था विश्वभर में फैले हिन्दुओं में परस्पर सम्बन्ध स्थापित करने के साथ-साथ हिन्दुओं में अज्ञानवश फैली असमानताओं को मिटाने का काम करेगी। हिन्दुओं के रक्त में सदैव वसुधैव कुटुम्बकम् की भावना सञ्चरित होती है, यह संगठन उस भावना को मूर्तरूप प्रदान करनें में सहयोग करेगी। सर्वदा सकारात्मक ऊर्जा से ओत-प्रोत रहते हुए व्यक्ति-परिवार-समाज एवं संसार का कल्याण करना इस संगठन का उद्देश्य है। समाज एवं संस्कृति विरोधी शक्तियों से डटकर मुकाबला कर हिन्दू समाज को धर्मपरिवर्तन की विभीषिका से बचाना भी इसका अन्यतम उद्देश्य है। इसके साथ ही वेदानुप्राणित अनुसन्धानमूलक शिक्षा, जिसके माध्यम से वैदिक गणित, ज्योतिष, एवं आयुर्वेदादि व्यावहारिक शास्त्रों का ज्ञान भारत सहित विश्व के प्रत्येक जिज्ञासुओं को उपलब्ध कराना भी विश्व-हिन्दू-रक्षा-वाहिनी का पुनीत उद्देश्य है, जिससे सभ्य, सुसंस्कृत, स्वगौरवबोधयुक्त नागरिकों का निर्माण किया जा सके। ।।सर्वे भवन्तु सुखिनः।।

  • डॉ राम बिहारी द्विवेदी

    राष्ट्रीय अध्यक्ष

    विश्व-हिन्दू-रक्षा-वाहिनी के आनुषङ्गिक उद्देश्य यह संस्था विश्वभर में फैले हिन्दुओं में परस्पर सम्बन्ध स्थापित करने के साथ-साथ हिन्दुओं में अज्ञानवश फैली असमानताओं को मिटाने का काम करेगी। हिन्दुओं के रक्त में सदैव वसुधैव कुटुम्बकम् की भावना सञ्चरित होती है, यह संगठन उस भावना को मूर्तरूप प्रदान करनें में सहयोग करेगी। सर्वदा सकारात्मक ऊर्जा से ओत-प्रोत रहते हुए व्यक्ति-परिवार-समाज एवं संसार का कल्याण करना इस संगठन का उद्देश्य है। समाज एवं संस्कृति विरोधी शक्तियों से डटकर मुकाबला कर हिन्दू समाज को धर्मपरिवर्तन की विभीषिका से बचाना भी इसका अन्यतम उद्देश्य है। इसके साथ ही वेदानुप्राणित अनुसन्धानमूलक शिक्षा, जिसके माध्यम से वैदिक गणित, ज्योतिष, एवं आयुर्वेदादि व्यावहारिक शास्त्रों का ज्ञान भारत सहित विश्व के प्रत्येक जिज्ञासुओं को उपलब्ध कराना भी विश्व-हिन्दू-रक्षा-वाहिनी का पुनीत उद्देश्य है, जिससे सभ्य, सुसंस्कृत, स्वगौरवबोधयुक्त नागरिकों का निर्माण किया जा सके। ।।सर्वे भवन्तु सुखिनः।।

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram

©2020 by vhrv ( विश्व हिन्दू रक्षा वाहिनी ).  All rights Reserved by vhrv.

Privacy & Policy    FAQ     Rules   Terms of use    About

Equiry

#joinvhrv

+91 9473973862

+91 8077388858